हजारों कर्मचारियों और शिक्षकों के लिए खुशखबरी, जल्द बढ़ेगा मानदेय, खाते में आएँगे 35 हजार रुपये तक, मंत्री ने मांगा प्रस्ताव


उत्तराखंड के हजारों अतिथि शिक्षकों और कर्मियों के लिए खुशखबरी है। अतिथि शिक्षकों के मानदेय में जल्द ही बढ़ोतरी होने जा रही है। इस संबंध में शिक्षा मंत्री डॉ. धन सिंह रावत ने विभाग से प्रस्ताव मांगा है, जिसे जल्द ही मंजूरी के लिए वित्त और कार्मिक विभाग को भेजा जा सकता है।

शिक्षकों को मिलेगा लाभ, 35000 रुपये तक बढ़ सकता है मानदेय

दरअसल, 2015 से ही उत्तराखंड के विभिन्न दूरस्थ और अति दुर्गम स्कूलों में अतिथि शिक्षक कार्यरत हैं, जिन्हें 10 हजार रुपये का मानदेय दिया जाता था, जिसके बाद साल 2018 में उनका मानदेय बढ़ाकर 15000 हजार रुपये कर दिया गया और फिर साल में 2020-21 में इसे बढ़ाकर 25000 रुपए कर दिया गया। अब शिक्षकों और कर्मचारियों की मांग पर इसे दोबारा बढ़ाने की तैयारी है। अगर मानदेय में बढ़ोतरी होती है तो इससे 4000 शिक्षकों और कर्मचारियों को फायदा होगा।

खबर है कि अतिथि शिक्षकों का मानदेय 8000 से बढ़ाकर 10000 रुपये किया जा सकता है, इसके बाद अतिथि शिक्षकों का मानदेय 25000 से बढ़कर 35000 रुपये हो सकता है। शिक्षा मंत्री डॉ. धन सिंह रावत ने अतिथि शिक्षकों को आश्वासन दिया है कि जल्द ही मंजूरी के लिए प्रस्ताव वित्त एवं कार्मिक विभाग को भेजा जायेगा। अधिकारियों को जल्द ही प्रस्ताव बनाकर भेजने को कहा गया है। इसके अलावा उनकी कुछ अन्य मांगों पर भी सकारात्मक निर्णय लिया गया है।

Bina PAN Card Ke Personal Loan 2024: बिन पैन कार्ड आधार के लोन, 50 हजार खाते में तुरंत

आईबीपीएस पीओ मुख्य परिणाम 2023-24 लिंक @ibps.in, तिथि जांचें [January 2024]

जेईई मेन्स 2024 सिलेबस [New]: देखें Physics, Chemistry & Maths से हटाए गए Topics की सूची

कर्मचारी और पेंशनभोगी को 4 % DA का इंतजार

इधर, उत्तराखंड के लाखों सरकारी कर्मचारी और पेंशनभोगी 4% DA का इंतजार कर रहे हैं, हालांकि वित्त मंत्री की मंजूरी के बाद वित्त विभाग ने फाइल मुख्यमंत्री कार्यालय को भेज दी है, जिस पर अब अंतिम फैसला होना है। सीएम पुष्कर सिंह धामी ने वर्तमान में राज्य कर्मचारियों और पेंशनभोगियों को 42 प्रतिशत DA का लाभ दिया जा रहा है और 3 लाख से अधिक सरकारी, सहायता प्राप्त शैक्षणिक और तकनीकी शिक्षण संस्थानों और शहरी निकायों के कर्मचारियों और पेंशनरों का महंगाई भत्ता 42 प्रतिशत से 46 प्रतिशत तक बढ़ाया जाना है, उम्मीद है कि जल्द ही इस पर भी फैसला लिया जा सकता है।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top