7th Pay Commission Big News 2024: केंद्रीय कर्मचारियों की हो गई मौज, 4% DA Hike साथ मिलेंगे ये 2 बड़े लाभ


7वां वेतन आयोग बड़ी खबर 2024: नमस्कार दोस्तों नए साल की शुरुआत हो चुकी और नए साल की शुरुआत के साथ ही केंद्र कर्मचारियों के महंगाई भत्ते को लेकर सैलेरी में नए रिवाइज भी जल्द ही किए जाएंगे । जानकारी के लिए बता दे केंद्रीय कर्मचारियों का महंगाई भत्ता (सातवां वेतन आयोग बड़ी खबर 2024) फिलहाल 46% तक है जिसमें जल्द ही नई दरों से वृद्धि की जाएगी । केंद्रीय कर्मचारियों के महंगाई भत्ते की बात करें तो फरवरी में इस महंगाई भत्ते को फिर से बढ़ा दिया जाएगा । नए अखिल भारतीय उपभोक्ता उत्पाद सूचकांक एआईसीपीआई के आधार पर इस बार महंगाई भत्ते में 5 फ़ीसदी की वृद्धि हो सकती है और 5% की वृद्धि होते ही या महंगाई भत्ता 50 फ़ीसदी से ज्यादा हो जाएगा।

केंद्रीय कर्मचारी साल में दो बार अपने महंगाई दर में वृद्धि देखते हैं। इस महंगाई भत्ते में वृद्धि देश भर की महंगाई दर को देखने के बाद की जाती है जिसे नापने के लिए अखिल भारतीय उपभोक्ता उत्पाद सूचकांक एआईसीपीआई का सहारा लिया जाता है।  All India Consumer Product Index के आंकड़ों के आधार पर प्रत्येक छमाही में केंद्र कर्मचारियों के महंगाई भत्ते में वृद्धि की जाती है और इस बार का ऑल इंडिया कंज्यूमर प्रोडक्ट्स इंडेक्स आ गया है । नए आंकड़े 31 जनवरी तक रिलीज कर दिए जाएंगे और इस आधार पर साल 2024 की पहली छमाही में महंगाई भत्ते को बढ़ा दिया जाएगा ।

7वां वेतन आयोग बड़ी खबर 2024: 4% से 5% बढ़ेगा DA

जानकारों की माने तो साल 2024 की पहली छमाही के महंगाई भत्ते को 4 से 5% तक बढ़ाया जाएगा।  इसके बढ़ते ही केंद्रीय कर्मचारियों के महंगाई भत्ते में 4 से 5 फ़ीसदी का उछाल देखने को मिलेगा । इसके साथ ही केंद्र कर्मचारियों का महंगाई भत्ता 50 फ़ीसदी से ऊपर पहुंच जाएगा।

महंगाई भत्ते में नया इजाफा होते ही उनका महंगाई भत्ता 50वीं फ़ीसदी से ऊपर पहुंच जाएगा। 50 फ़ीसदी के ऊपर पहुंचते ही महंगाई भत्ते में फिर से रिवीजन करने की संभावना जताई जा रही है ।

7th Pay Commission Big News 2024: DA 50% होते ही बेसिक वेतन बढ़ा दिया जाएगा

जानकारी के लिए बता दे 7 वें वेतन आयोग के अंतर्गत यह नियम बनाया गया है कि यदि केंद्रीय कर्मचारियों का महंगाई भत्ता 50% से ऊपर पहुंच जाता है तो केंद्रीय कर्मचारियों का मूल वेतन 50% से बढ़ा दिया जाता है और महंगाई भत्ते को फिर से शून्य कर दिया जाता है। इस प्रकार महंगाई भत्ते में फिर से नई दरों के अनुसार इजाफा होता है और केंद्रीय कर्मचारियों का मूल वेतन भी बढ़ जाता है । यदि ऐसा होता है तो केंद्र कर्मचारियों को साल 2024 की ही पहली छमाही में अपने बेसिक वेतन में वृद्धि देखने को मिलेगी वहीं साथ ही साथ उन्हें महंगाई भत्ते में भी वृद्धि उपलब्ध कराई जाएगी।

सीबीएसई पाठ्यक्रम संशोधन 2024: नवोन्मेषी पाठ्यचर्या योजना, उन्नत भाषा विकल्प और विस्तारित विषय विकल्प

बजट 2024-25 में आशा और आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं के लिए आयुष्मान भारत योजना का विस्तार

7th Pay Commission में कर्मचारियों का मूल वेतन 50% तक  बढ़ेगा

सातवें वेतन आयोग के अंतर्गत बनाए हुए इस नियम से केंद्रीय कर्मचारियों का बेसिक वेतन 50 फ़ीसदी से बढ़ जाएगा ।इस प्रकार यदि केंद्र कर्मचारियों की बेसिक सैलरी 18000 रुपए है तो उन्हें 50% के अंतर्गत ₹9000 अधिक दिए जाएंगे । वहीं साथ ही साथ उन्हें नई दरों से महंगाई भत्ता भी उपलब्ध कराया जाएगा। इसके अलावा यदि केंद्रीय कर्मचारियों का मूल वेतन ₹22000 है तो उन्हें ₹11000 का बेसिक वेतन अधिक दिया जाएगा इस प्रकार केंद्र कर्मचारियों को बेसिक वेतन में ही भारी इजाफा देखने को मिलेगा ।

सरकारी खजाने पर बढ़ेगा अतिरिक्त भार

महंगाई भत्ता 50 फ़ीसदी की दर पार करने के पश्चात उसे शून्य कर दिया जाता है । सातवें वेतन आयोग के अंतर्गत यह नियम बनाया गया है कि यदि महंगाई भत्ता 50% तक पहुंच जाता है तो पूरा का पूरा प्रतिशत मूल वेतन में जोड़ दिया जाना चाहिए और फिर से नई दर से महंगाई भत्ते को बढ़ा देना चाहिए ।  ऐसे में सरकारी ख़ज़ाने पर अतिरिक्त बोझ भी नहीं पड़ता और केंद्रीय कर्मचारियों को महंगाई दर के अनुसार वेतन भी उपलब्ध हो जाता है जिससे ना तो सरकार के वित्त प्रबंधन पर असर पड़ता है और ना ही केंद्रीय कर्मचारियों के साथ किसी प्रकार का अन्याय होता है।

सातवें वेतन आयोग के अंतर्गत केंद्रीय कर्मचारियों के महंगाई दर में लगातार वृद्धि की जा रही है। सालाना दो बार होने वाली इस वृद्धि से सरकार के सरकारी खजाने पर असर पड़ रहा है । ऐसे में सरकार पर वित्तीय बोझ भी दिन-ब-दिन बढ़ता जा रहा है ।जानकारों की माने तो यदि केंद्रीय कर्मचारियों के वेतन में इजाफा होता है तो सरकार पर एक बार फिर से वित्तीय बोझ बढ़ जाएगा  ऐसे में केंद्रीय कर्मचारियों को अतिरिक्त महंगाई भत्ता भी उपलब्ध कराया जाएगा जिससे कि केंद्र सरकार के वित्तीय प्रबंधन पर असर पड़ सकता है।

HRA में भी होगा 3 % तक का इज़ाफ़ा

दूसरी और कहा जा रहा है कि केंद्रीय कर्मचारियों के हाउस रेंट अलाउंस को भी बढ़ाया जाएगा। इसमे जल्द ही 3% तक की वृद्धि की जाएगी । यह वृद्धि केंद्र कर्मचारियों को उनके शहर की कैटेगरी के अनुसार उपलब्ध कराई जाएगी।  यदि केंद्र कर्मचारी x कैटेगरी के शहर में आते हैं तो उनका HRA 30% कर दिया जाएगा। यदि केंद्रीय कर्मचारी Y कैटेगरी के शहर में रह रहे हैं तो उनका HRA  20% हो जाएगा और z कैटिगरी में रहने वाले केंद्रीय कर्मचारियों का HRA 10% तक कर दिया जाएगा । इस प्रकार केंद्रीय कर्मचारियों को आने वाले समय में लाभ ही लाभ उपलब्ध कराया जाएगा ।

रेलवे अपरेंटिस भर्ती 2024, 2860 पद, अंतिम तिथि – 28 फरवरी 2024

बोर्ड परीक्षा 2024 के लिए शीर्ष युक्तियाँ, सर्वोत्तम रणनीतियाँ

निष्कर्ष: 7th Pay Commission Big News 2024

हालांकि सरकार के वित्तीय खजाने पर इसे बोझ बढ़ सकता है परंतु केंद्रीय कर्मचारियों के फायदे को देखते हुए सरकार को इस प्रकार के निर्णय लेने पड़ सकते हैं जिसमें केंद्रीय कर्मचारियों के बेसिक वेतन में भी वृद्धि की जाएगी वहीं उनके HRA और महंगाई भत्ते में भी इजाफा किया जाएगा।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top